दोस्त की मा को बहला फुसलाके चोदा

तस्वीर का शीर्षक ,

दोस्त की मा को बहला फुसलाके चोदा, पापाजी कभी चूत में अपनी जीभ डालते तो कभी उसके अन्दरूनी होंठ चूसते लेकिन जब वह छोले पर जीभ चलाते तो मेरी चूत के अंदर अजीब सी गुदगदी होती और मुझे लगता कि मैं स्वर्ग में पहुँच गई हूँ.