अशोक का देसी इलाज और सविता भाभी की चुदाई कांड

तस्वीर का शीर्षक ,

अशोक का देसी इलाज और सविता भाभी की चुदाई कांड, छोड़ मुझे, मैं तेरी भाभी हूँ… मुझे नहीं मालिश करवानी।लेकिन भाभी ने हटने की कोई कोशिश नहीं की। मैंने थोड़ा सा दबाव डाल कर आधा इंच लंड और भाभी की चूत में सरका दिया।अई…ऊई तेरे लवड़े ने मेरी कच्छी तो फाड़ ही दी, अब मेरी चूत भी फाड़ डालेगा। मेरे मोटे लवड़े ने भाभी की चूत के छेद को बुरी तरह फैला दिया था।भाभी आप तो कुँवारी नहीं हैं.